लॉगिन

ईवी की दौड़ में मारुति सुजुकी की चाल धीमी, लेकिन पिछड़ी नहीं: चेयरमैन आरसी भार्गव

भारत की अग्रणी कार निर्माता कंपनी का पहला बैटरी से चलने वाली कार वित्त-वर्ष 2025 में लॉन्च होने वाली है.
Calendar-icon

द्वारा ऋषभ परमार

clock-icon

2 मिनट पढ़े

Calendar-icon

प्रकाशित अगस्त 30, 2023

हमें फॉलो करें

google-news-iconWhatsapp-icon
Story

हाइलाइट्स

    एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार, भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी तेजी से विकसित हो रहे इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) क्षेत्र में धीरे-धीरे और सावधानी से कदम उठा रहे हैं, लेकिन इससे उसकी बाजार संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा. मारुति सुजुकी के चेयरमैन आरसी भार्गव ने कहा कि जब कंपनी की भारत में ईवी लॉन्च करने की बात आती है तो प्रतिद्वंद्वियों के साथ टिकने में सक्षम नहीं है, लेकिन यह ईवी सेगमेंट में पहले मूवर्स से बाजार हिस्सेदारी हासिल करने और छीनने की उसकी क्षमता को भविष्य में प्रभावित नहीं कर सकती है.

     

    यह भी पढ़ें: टैस्टिंग के दौरान पहली बार दिखी मारुति सुजुकी EVX इलेक्ट्रिक एसयूवी

     

    “हां, हम ईवी लॉन्च करने में कुछ कंपनियों से पीछे हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम देर कर चुके हैं. हम वित्तीय वर्ष 24-25 में आ रहे हैं; इससे किसी भी तरह से बाजार हिस्सेदारी सुरक्षित करने की हमारी क्षमता को नुकसान नहीं पहुंचा है. हमने भारत में ईवी के लिए माहौल का सावधानीपूर्वक आंकलन किया है”, भार्गव ने कंपनी की 42वीं वार्षिक आम बैठक के दौरान शेयरधारकों से कहा.

    मारुति सुजुकी ईवीएक्स के 2024 के अंत में प्रोडक्शन के रूप में शुरू आने की उम्मीद है

     

    कार निर्माता ने पहले पुष्टि की है कि वह 2031 तक 6 ईवी लॉन्च करने का इरादा रखता है, लेकिन शेयरधारकों के बीच चिंता है कि अन्य कंपनियां मारुति के ईवी बनाने में मारुति से आगे निकल सकती हैं. टाटा मोटर्स, जो वर्तमान में ईवी में बाजार में अग्रणी है, ने पुष्टि की है कि 2026 तक उसके लाइन-अप में 10 ईवी होंगी, जबकि ह्यून्दे 2028 तक 6 ईवी लॉन्च करने के लिए प्रतिबद्ध है.

     

    वर्तमान में मारुति सुजुकी के पोर्टफोलियो में कोई शुद्ध इलेक्ट्रिक वाहन नहीं है. 2023 की शुरुआत में ही मारुति ने EVX कॉन्सेप्ट के रूप में अपनी पहली बैटरी से चलने वाली पेशकश प्रदर्शित की थी. यह प्रोडक्शन-स्पेक EVX है जिसके साथ मारुति अपनी ईवी यात्रा शुरू करेगी, जिसकी शुरुआत 2024 के अंत में होने की उम्मीद है.

     

    मारुति सुजुकी ने पहले घोषणा की है कि वह गुजरात में ईवी और उन्हें शक्ति देने वाली बैटरियों के स्थानीय निर्माण के लिए 2026 तक लगभग 150 बिलियन येन (लगभग ₹10,445 करोड़) का निवेश करेगी. कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली ब्रांच सुजुकी मोटर गुजरात (एसएमजी) 2026 तक ईवी बैटरी के लिए एक प्लांट के निर्माण के लिए ₹7,300 करोड़ का निवेश करेगी, जो एसएमजी के मौजूदा प्लांट के ठीक बगल में स्थित होगा. एसएमजी 2025 तक ईवी निर्माण क्षमता में वृद्धि के लिए ₹3,100 करोड़ और निवेश करेगी.

     

    भार्गव ने कहा कि टोयोटा के साथ सुजुकी के वैश्विक गठबंधन का मतलब है कि मारुति के पास इलेक्ट्रिक और हाइड्रोजन पावरट्रेन तकनीक सहित सभी प्रकार की वैकल्पिक ईंधन तकनीकों तक पहुंच है. मारुति का लक्ष्य 2031 तक अपनी वाहन क्षमता को 20 लाख तक और बढ़ाने का है, जिसके लिए ₹45,000 करोड़ का निवेश करना होगा.

    Calendar-icon

    Last Updated on August 30, 2023


    Stay updated with automotive news and reviews right at your fingertips through carandbike.com's WhatsApp Channel.

    पुरानी कारों पर शानदार डील

    सभी यूज़्ड कार देखें

    अपकमिंग कार्स

    अपकमिंग बाइक्स

    और ज्यादा खोजें